मोबाइल की चोरी या गुम हो जाना आजकल आम बात हो गई है। लोग अच्छे से अच्छा और महंगे से महंगा मोबाइल खरीदना पसंद करते है। फिर पर्सनल फोटो और विडिओ के अलावा भी बहुत सारी पर्सनल इनफार्मेशन मोबाइल में सेव करके रखते है। महंगे मोबाइल की चोरी होने पर मोबाइल के साथ में आपकी पर्सनल इनफार्मेशन भी चोरी हो जाती है। जिसका गलत इस्तेमाल भी किया जा सकता है।

इस पोस्ट में आपको मोबाइल की चोरी या गुम होने से बचाने के तरीको के बारे में बताया जायेगा। लेकिन उससे पहले जानते है की मोबाइल में आप क्या इनफार्मेशन सेव करके रखते है।

लोग अपने मोबाइल में अधिकतर क्या करते हैं?

  1. जब कोई छोटी पार्टी होती है या पिकनिक जाते है, तो अधिकतर लोग कैमरा के बजाये मोबाइल कैमरा से ही फोटो या विडियो लेना पसंद करते है।
  2. कभी- कभी documents जेसे आधार कार्ड, पैन कार्ड की जरुरत पड़ती है तो लोग इनका फोटो ले के मोबाइल में रखते है ।
  3. अपने सभी जान-पहचान वाले और बिज़नेस से रिलेटेड कांटेक्ट नंबर मोबाइल में सेव करके रखते है ।
  4. स्मार्टफ़ोन में ईमेल आई डी हमेशा लॉग इन रखते है, जिसमे हमारे इम्पोर्टेन्ट इमेल्स जेसे बैंक डिटेल्स, क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट्स आते है, जिनके साथ में अटेचमेंट भी होते है।
  5. बहुत सारी एपीआई एप्लीकेशन और wallet एप्लीकेशन इस्तेमाल करते है क्योकिं इनमे बार-बार पासवर्ड नहीं भरने पड़ते है।
  6. इन्टरनेट ब्राउज़र में ऑटो पासवर्ड का एक फीचर होता है, जिसका इस्तेमाल करने से आपको किसी भी वेबसाइट के ID और पासवर्ड याद रखने की जरुरत नहीं है। वेबसाइट लोड होते ही वो अपने से आपको, आपके ID और पासवर्ड से लॉग इन करेगा। कई लोग तो इन्टरनेट बैंकिंग के पासवर्ड को ऑटो लॉग इन करवाते है।
  7. इन्टरनेट और इमेल्स से डाउनलोड किया हुवा सभी डाटा आपके मोबाइल में सेव रहता है।

MS-Word के ये 15 टिप्स आपके काम करने की स्पीड को बढ़ाएंगे

अगर मोबाइल की चोरी या गुम हो जाये तो क्या होगा ?

एक मिनट के लिए आप कल्पना कर सकते है की आपका महंगा मोबाइल चोरी हो गया तो क्या-क्या हो सकता है क्योंकि:

  1. आपके मोबाइल की gallery में आपकी फॅमिली के फोटोज और वीडियोस है, जिसे मिसयूज किया जा सकता है।
  2. आपके इम्पोर्टेन्ट डॉक्यूमेंट जैसे ऑफिस के पेपर्स, घर के कागजात, कार के पेपर्स या बैंक के पेपर्स, ड्राइविंग लाइसेंस सब के फोटो आप मोबाइल में ही रखते है। इनके इस्तेमाल से सिम कार्ड ख़रीदा जा सकता है या कोई और भी फर्जी आवेदन किया जा सकता है।
  3. आपकी whatsapp चैट, SMS चैट या फेसबुक /ट्विटर चैट से आपकी पर्सनल या गोपनीय इनफार्मेशन ली जा सकती है या आपके नाम से गलत massege भेजे जा सकते है ।
  4. आपके मोबाइल के कॉन्टेक्ट्स का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  5. आपके इन्टरनेट बैंकिंग में अगर ऑटो पासवर्ड का फीचर एक्टिवेट है तो इसका फायदा उठाया जा सकता है।
  6. किसी वेबसाइट में अगर आपने अपने क्रेडिट कार्ड की इनफार्मेशन सेव कर रखी है तो शौपिंग के लिए फायदा उठाया जा सकता है ।
  7. किसी भी वेबसाइट या इन्टरनेट बैंकिंग के पासवर्ड रिसेट करने के लिए फ़ोन नंबर और ईमेल ID की ही जरुरत पड़ती है, जो दोनों चोर के पास होंगी अगर आपके मोबाइल की चोरी हो गई है तो।
  8. ये सब तो एक आम इंसान कर सकता है, सोचो अगर आपका मोबाइल किसी हैकर के हाथ लग गया, तो बहुत कुछ हो सकता है।

मोबाइल की चोरी या गुम होने से कैसे बचाया जाये?

मोबाइल की चोरी या गुम होने से बचाने के लिए कुछ तरीके है जिनका इस्तेमाल करना बहुत फायेदेमंद हो सकता है।

विडियो देखे

अच्छे से समझने के लिए विडियो जरुर देखे।

IMEI नंबर को नोट करके रखे

IMEI (International Mobile Equipment Identity) नंबर को कही लिख के रखे। क्योंकि अगर आपके पास IMEI नंबर नहीं है तो पुलिस भी कुछ नहीं कर सकती है । और अगर आपके पास फीचर फ़ोन है तो मोबाइल को ढूंढने का सिर्फ IMEI नंबर ही लास्ट तरीका है। मोबाइल से सिम को चेंज किया जा सकता है पर IMEI नंबर को चेंज नही किया जा सकता है।

IMEI नंबर कैसे पता करे?

अपने मोबाइल का IMEI नंबर पता करने के लिए मोबाइल में *#06# डायल करे, स्क्रीन पर IMEI नंबर दिखेंगे। अगर मोबाइल दो सिम सपोर्ट करता है तो दो अलग-अलग नंबर दिखेंगे।

मोबाइल का बैकअप लेवे

समय पर मोबाइल का बैकअप लेते रहे। बैकअप किसी मेमोरी कार्ड, पेन ड्राइव या कंप्यूटर/लैपटॉप में ले सकते है, अगर आपके पास इनमे से कुछ भी नहीं है तो आप ऑनलाइन ड्राइव में भी बैकअप ले सकते है। बैकअप के बारे में अधिक जानने के लिए विडियो देख सकते है।

मोबाइल पासवर्ड

आपके मोबाइल की चोरी या गुम होने के बाद जिसे मिलता है वो सबसे पहले उसे अनलॉक करने की कोशिश करता है। अगर आपने सिंपल या कॉमन पासवर्ड लगा रखे है, तो आपके मोबाइल का इम्पोर्टेन्ट data आसानी से चोरी हो जायेगा। उसको कुछ ज्यादा टेक्नोलॉजी इस्तेमाल करने की जरुरत भी नही पड़ेगी।

अगर आपने 0000 जेसे सिंपल पासवर्ड लगाये है तो इसे चेंज करे और कठिन पासवर्ड लगाये जिसमे किसी के लिए कोई हिंट नहीं हो। अगर आपका रिलेटिव/पडोसी भी मोबाइल चुराए तो वो भी अनलॉक ना कर पाए। स्ट्रोंग पासवर्ड या डिफिकल्ट पैटर्न लॉक लगाने की कोशिश करे। अगर आपके मोबाइल में फिंगर प्रिंट रीडर का फीचर है तो उसे जरुर इस्तेमाल करे वो ज्यादा सेफ है, और पासवर्ड भूलने का भी डर नही है।

एंटी थेफ़्ट एप्लीकेशन का इस्तेमाल करे

एप्लीकेशन स्टोर पर बहुत सारी एंटी थेफ़्ट एप्लीकेशन उपलब्ध है किसी अच्छी एप्लीकेशन को मोबाइल में डाउनलोड करे और उसका इस्तेमाल करे। खासकर जब आप किसी भीड़-भाड़ वाले इलाके या बाज़ार में जा रहे हो तब जरुर करे। इन एप्लीकेशन के कई फीचर्स बहुत काम के होते है जैसे- मोबाइल को छूने से अलार्म बजना, चार्जर निकालने पर अलार्म, सिम चेंज करने पर ईमेल और मेसेज पुराने नंबर पर सेंड करना इत्यादि। कुछ एप्लीकेशन तो हाईड भी हो जाती है।

बाज़ार में ध्यान रखे

अक्सर देखा जाता है की लोग या तो अपना मोबाइल बाज़ार में किसी दुकान पर भूल कर आते है या टैक्सी/ऑटो में भूल आते है। इस बात का ध्यान रखे की आप दुकान या ऑटो को छोड़ते टाइम जेब जरुर चेक कर ले की आपने अपना मोबाइल ले लिया है या वही छोड़ दिया है।

अपने मोबाइल का जीपीएस हमेशा एक्टिव रखे जो आपका मोबाइल ढूंढने में आपकी मदद करेगा।

आशा करता हु मेरी यह पोस्ट आपको अत्यंत पसंद आई होगी। अपने रिश्तेदारों, दोस्तों और पड़ोसियों को यह पोस्ट शेयर करे ताकि ये जानकारी उन तक भी पहुच पाए। कोई सुझाव देने या कुछ पूछने के लिए कमेंट करे। एसी जानकारी पाते रहने के लिए TechNeem के सदस्य बने। धन्यवाद।